जल्दी मोटा होने के उपाय – Ways to Get Fat Fast

Spread the awareness

जल्दी मोटा होने के उपाय – इस लेख मे मै आपको जल्दी मोटा होने के उपाय बताउंगा। आज हमारी लाइफ इतनी ज्यादा व्यस्त हो चुकी है कि हम अपने खाने पीने और बाकि की दिनचर्या पर ध्यान नहीं दे पाते, जिसका परिणाम यह होता है कि या तो हमारा मोटापा बढ़ने लगता है या बहुत कम खाने पीने की वजह से हम लगातार पतले होते जाते हैं। जो लोग मोटे होते हैं वो पतला होना चाहते हैं और जो लोग पतले होते हैं वो मोटा होना चाहते हैं। पतला और फिट होना अच्छा होता है पर एक सीमा से अधिक पतले होना आपकी हेल्थ के लिए बुरा हो सकता है। वैसे तो मोटा होने के लिये मार्केट में बहुत सारे प्रोडक्ट्स मिलते हैं पर उनसे 100 % आपको फायदा होगा इसकी कोई गारंटी नहीं होती। वहीं आप घर बैठे कुछ व्यायाम करके और अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करके मोटे हो सकते हैं। आइये मोटा होने के कुछ तरीकों के बारे में जानकारी लेते हैं की किस तरीके से आप अपना वजन बढ़ा सकते हैं

जल्दी मोटा होने के उपाय

अंडर वेट होना क्या होता है?- What does Underweight mean

आप अंडर वेट की केटेगरी में तब आते हैं जब आपका BMI 18.5 से कम होता है। अगर आपका बी ऍम आई (BMI) 18.5 से निचे होता है तो आपको हेल्दी नहीं बोला जा सकता।

अगर आपका BMI 25 से ज्यादा होता है तो आप ओवर वेट केटेगरी में आएंगे वहीं 30 से ज्यादा BMI होने पर आप मोटे होने की केटेगरी में आयेंगे। कुछ लोग आमतौर पर बहुत पतले होते हैं लेकिन उन्हें हेल्दी केटेगरी में रखा जाता है।

BMI के अनुसार वजन यह नहीं होता कि आप हेल्दी नहीं हैं या आपको हेल्थ संबंधी कोई परेशानी है। पुरुषों की तुलना में लड़कियों और महिलाओं का वजन कम होना बहुत आम बात होती है, और यह करीबन 2-3 गुना कम हो सकता है।

अगर आप अपना वजन अपनी लम्बाई के अनुसार बढ़ाना चाहते हैं या मोटा होना चाहते हैं तो ये कोई बड़ी बात नहीं है और न ही ऐसा करने के लिए आपको मार्किट से महंगे प्रोडक्ट्स को लेने की कोई जरूरत है।

मोटा होने के लिए बस आपको थोड़े व्यायाम और मेहनत करने की जरूरत है साथ ही आपको अपनी खान-पान की आदतों और लाइफस्टाइल में भी सुधार करना पड़ेगा और कुछ घरेलू उपाय करके भी आप मोटे हो सकते हैं।

अंडर वेट होने के कारण – Causes of being Underweight

ऐसी बहुत सारी मेडिकल प्रॉब्लम्स होती हैं जिनकी वजह से आपका वजन घट सकता है या इसका कारण बन सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं:

  • भूख की कमी
  • खराब हेल्थ
  • फैमिली हिस्ट्री
  • फ्युलिंग स्पोर्ट
  • कैंसर
  • डायबिटीज
  • थाइरॉइड
  • इन्फेक्शन्स जैसे पैरासाइट्स, ट्यूबरक्लोसिस और HIV/AIDS

जल्दी मोटा होने के उपाय – Ways to Get Fat Fast

अगर आप मोटा होना चाहते हैं या अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो फ़िक्र न करें, यह नामुमकिन नहीं है इसके लिए आपको धैर्य रखना पड़ेगा और सही तरीके अपनाने होंगे क्योंकि आपका मुख्य उद्देश्य हेल्दी तरीके से वजन बढ़ाना है ना कि अनहेल्दी तरीके से मोटापा बढ़ाना, इसके लिए जरूरी है कि हेल्दी भोजन खायें और सही समय पर खायें, इसके 3 तरीके होते हैं वो इस तरह हैं-

  1. वजन बढ़ाने के लिए हेल्दी भोजन खायें
  2. मस्सल बिल्डिंग या बॉडी बनाएं
  3. साबधानियाँ बरतें

वजन बढ़ाने के लिए हेल्दी भोजन खायें

  • भोजन में कैलोरीज शामिल करें: वजन बढ़ाने के लिए अपने भोजन में कैलोरी शामिल करें। सैंडविच में पनीर इस्तेमाल करें और भोजन में सूप शामिल करें, सब्जी ओलिव आयल में बनायें और जितना हो सके पनीर, सलाद, नट्स का सेवन करें।
  • हाई फैट वाले स्नैक्स खाएं: वसा या फैट हमारे डाइट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है, और इसे खाकर वजन बढ़ाना एक अच्छा और हेल्दी तरीका हो सकता है। अपने भोजन में नट्स, और पीनट बटर को शामिल कीजिये साथ ही साथ पनीर,ड्राई फ्रूट्स, फल , फैट और दही को भी शामिल कीजिये। रोटी और सब्जी अच्छी खायें, ओलिव आयल के साथ सलाद खाना भी आपके कैलोरी मात्रा बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • अच्छे से दूध पियें और हाई कैलोरी फ़ूड लें: पानी पीना सेहत के लिए अच्छा होता है लेकिन बहुत ज्यादा पानी पीना भी आपके लिये परेशानी का कारण बन सकता है, ज्यादा पानी पीने से आपकी भूख ख़तम हो सकती है। तो जरूरी है की पानी पीने के साथ-साथ अन्य तरल पदार्थ भी लें जैसे दूध और शेक्स को भी अपनी डाइट करें।
    • स्कीम के बजाय फुल फैट वाला दूध पियें।
    • शेक्स और स्नेक्स में प्रोटीन पाऊडर और पीनटबटर का उपयोग करें।
    • कोकोनट मिल्क और पीनट मिल्क पीना आपके लिए लाभदायक हो सकता है।
    • खाने के बाद पानी और अन्य कैलोरी पेय न पीएं।
  • ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन खाएं: वजन बढ़ाने के लिये प्रोटीन बहुत जरूरी होता है, उसके लिए जितना हो सके प्रोटीन युक्त भोजन खाएं। प्रोटीन युक्त भोजन वजन बढ़ाने में सहायक होता ही है साथ ही साथ यह आपकी बॉडी की मासपेशियों को भी मजबूत बनता है। प्रोटीन मात्रा बढ़ाने के लिए आप दही, बीन्स और प्रोटीन सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • कैलोरी युक्त सब्जियों का सेवन करें: ऐसी सब्जियों जिनमे पानी की मात्रा ज्यादा होती हैं उन्हें खाने के वजाय कैलोरी युक्त सब्जियां खाएं। एवोकाडो एक हेल्दी फैट फ़ूड होता है, इसका सेवन भी आपकी वजन बढ़ाने में मदद कर सकता है। आलू, मीठे आलू और मकई जैसी स्टार्च वाली सब्जियां आपका वज़न बढ़ाने में मदद कर सकती हैं।
  • अपने भोजन में मीठा शामिल करें: वजन बढ़ाने या मोटा होने के लिए आप अपने भोजन के बाद मीठा खा सकते हैं, इसके लिए मीठे में आप आइसक्रीम, डार्क चॉकलेट, फलों और ग्रेनोला के साथ फुल फैट योगर्ट, ग्रानोला बार, या पेस्ट्री खा सकते हैं।

मस्सल बिल्डिंग या बॉडी बनाएं

एक्सरसाइज और वेट लिफ्टिंग:

  • वजन बढ़ने के लिए जरूरी है की जितना फैट आप लेते हैं वो आपकी मांसपेशियों में ही लगे ना कि फ़ालतु का फैट आपकी बॉडी पर इक्कट्ठा हो।
  • अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो डेली जिम जाइये और वेट उठाइये और समय के साथ साथ वजन की मात्रा बढ़ाते रहिये इससे आपकी मस्सल अच्छे से बिल्ड होंगी।
  • अगर आपने नया नया जिम जाना शुरू किया है तो एक अच्छे ट्रेनर की मदद लीजिये जिससे आपका सही विकास हो सके।
  • अगर आपको किसी तरह की मेडिकल समस्या है तो एक बार पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेलें उसके बाद ही जिम जाएँ।
  • इसके अलावा आप कार्डियो के साथ भी जा सकती हैं यह केवल आपके वजन बढ़ाने पर ही फोकस करता है।

एक्सरसाइज से पहले और एक्सरसाइज के बाद सही डाइट लें:

कार्बोहायड्रेटस वर्क आउट से पहले आपका स्टेमिना बनाये रखते हैं और कार्बोहिड्रेटस और प्रोटीन वर्क आउट के बाद आपकी मस्सल्स को हील करने में हेल्प करते है, उसके लिए जरूरी है कि-

  • एक्सरसाइज से करीबन 1 घंटे पहले कुछ हल्का फुल्का स्नेक्स लेलें।
  • अगर आपने बहुत सारा खाना खाया है तो कम से कम 3-4 घंटे तक एक्सरसाइज न करें।

साबधानियाँ बरतें

  • एकदम से वहन बढ़ाना आपकी हेल्थ के लिए खतरनाक हो सकता है। न तो बहुत ज्यादा खाएं, जितना आपके पेट में जगह हो उतना ही खाएं।
  • किसी ट्रेनर या डायटीशियन की देख रेख में वजन बढ़ाने का लक्ष्य रखें।
  • फ़ास्ट फ़ूड खाने की जगह घर का बना हेल्दी फ़ूड खायें।
  • तला-भुना और केन्डी और मीठे स्नेक्स खाने से बचें।

सारांश

वजन कम होना उतना ही अनहेल्दी होता है जितना मोटा होना। कम वजन वाले लोग ऑस्टियोपोरोसिस, इन्फेक्शन, इनफर्टिलिटी प्रॉब्लमस के शिकार जल्दी होते हैं। इसलिए थोड़ा मोटा होना बहुत ही जरूरी होता है और वहीं ज्यादा मोटा होना भी आपके हेल्थ के लिए खतरनाक हो सकता है।

अस्वीकरण (Disclaimer): यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करता है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। Useful Info (usefulinfo.tech) इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Source: credihealth.com


Spread the awareness

Leave a comment

Back To Top